दबोचा गया कानपूर पुलिस हत्याकांड का सरगना, उज्जैन में मंदिर के बाहर किया गया गिरफ्तार


विकास दुबे मध्यप्रदेश के उज्जैन के महाकाल मंदिर में दर्शन करने के लिए पहुंचा हुआ था, जहां वहां के गार्ड ने उसे पहचान लिया था और इसके साथ ही मंदिर की सिक्युरिटी टीम ने उसे संदिग्ध समझकर पकड़ लिया।

दबोचा गया कानपूर पुलिस हत्याकांड का सरगना, उज्जैन में मंदिर के बाहर किया गया गिरफ्तार


कानपुर हत्या कांड का आरोपी जो बीते 6 दिनों से फरार था, अब उसे यूपी से दूर मध्यप्रदेश में गिरफ्तार कर लिया गया है। 8 पुलिसकर्मियों को मारने वाला विकास दुबे आखिरकार पुलिस की गिरफ्त में आ ही गया। कानपुर के बिकरू गांव में खून की होली खेलने के बाद आतंकी विकास दुबे को मध्य प्रदेश के उज्जैन में एक मंदिर से गिरफ्तार किया गया।

#WATCH Madhya Pradesh: After arrest in Ujjain, Vikas Dubey confesses, "Main Vikas Dubey hoon, Kanpur wala." #KanpurEncounter pic.twitter.com/bIPaqy2r9d

— ANI (@ANI) July 9, 2020

आपको बता दें कि विकास दुबे मध्यप्रदेश के उज्जैन के महाकाल मंदिर में दर्शन करने के लिए पहुंचा हुआ था, जहां वहां के गार्ड ने उसे पहचान लिया था और इसके साथ ही मंदिर की सिक्युरिटी टीम ने उसे संदिग्ध समझकर पकड़ लिया। मंदिर के लोगों ने ही इस बात की जानकारी पुलिस को दी। 

मैंने यूपी के मुख्यमंत्री श्री @myogiadityanath जी से बात कर ली है। शीघ्र आगे की कानूनी कार्रवाई की जायेगी।

मध्यप्रदेश पुलिस, विकास दुबे को उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंपेगी।

— Shivraj Singh Chouhan (@ChouhanShivraj) July 9, 2020

कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों को मौत के घाट उतारने के बाद फरार हुए विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट किया, उन्होनें कहा कि जिन्हें ये लगता है कि महाकाल के शरण में जाने से उनेक पाप धुल जाएंगे, तो उन्होंने महाकाल को जाना ही नहीं।

जिनको लगता है की महाकाल की शरण में जाने से उनके पाप धूल जाएँगे उन्होंने महाकाल को जाना ही नहीं।

हमारी सरकार किसी भी अपराधी को बख्श्ने वाली नहीं है...

— Shivraj Singh Chouhan (@ChouhanShivraj) July 9, 2020

विकास दुबे के दबोचे जाने के बाद एमपी के सीएम ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को फोन कर बात की इस बात की भी जानकारी दी की विकास को उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंप दिया जाएगा।  विकास दुबे की गिरफ्तारी यूपी की जगह मध्यप्रदेश में हुई और इस वजह से यूपी सीएम अधिकारियों पर जमकर बरसे। मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि गैंगस्टर विकास दुबे पुलिस की गिरफ्त में है।

Chief Minister Shivraj Singh Chouhan has spoken with Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath over the arrest of Vikas Dubey from Ujjain. MP Police will hand over him to UP Police: Madhya Pradesh Chief Minister's Office (file pics) #KanpurEncounter pic.twitter.com/BDqZqAQPJP

— ANI (@ANI) July 9, 2020

विकास की गिरफ्तारी को लेकर हर तरफ से अलग-अलग प्रतिक्रिया आ रही है, पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद से विपक्ष लगातार हमलावर है। यूपी के पूर्व सीएम और सपा मुखिया अखिलेश यादव ने भी इस मामले पर ट्वीट किया।

ख़बर आ रही है कि ‘कानपुर-काण्ड’ का मुख्य अपराधी पुलिस की हिरासत में है. अगर ये सच है तो सरकार साफ़ करे कि ये आत्मसमर्पण है या गिरफ़्तारी. साथ ही उसके मोबाइल की CDR सार्वजनिक करे जिससे सच्ची मिलीभगत का भंडाफोड़ हो सके.

— Akhilesh Yadav (@yadavakhilesh) July 9, 2020

वहीं प्रियंका गांधी ने इस मुद्दे को लेकर सीबीआई जांच की मांग की है और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने भी योगी सरकार को घेरा है।

कानपुर के जघन्य हत्याकांड में यूपी सरकार को जिस मुस्तैदी से काम करना चाहिए था, वह पूरी तरह फेल साबित हुई।

अलर्ट के बावजूद आरोपी का उज्जैन तक पहुंचना, न सिर्फ सुरक्षा के दावों की पोल खोलता है बल्कि मिलीभगत की ओर इशारा करता है...1/2

— Priyanka Gandhi Vadra (@priyankagandhi) July 9, 2020

सरकार पर इस तरह के सवाल खड़े होना वैसे तो बेवजह नहीं हैं, यूपी पुलिस को चकमा देकर आखिरकार विकास दुबे मध्यप्रदेश कैसे पहुंचा, इस पूरे मामले में यूपी पुलिस की जमकर फजीहत हुई। यूपी पुलिस लगातार 6 दिनों तक विकास दुबे को ढूंढती रही लेकिन गैंगस्टर विकास दुबे पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ा।

Recent Posts

Categories