मुख्यमंत्री ने रबी अभियान सह बीज वाहन विकास रथ को किया रवाना


मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रबी अभियान सह बीज वाहन विकास रथों को रवाना किया। मुख्यमंत्री सचिवालय स्थित संवाद कक्ष के समीप हुए इस आयोजन में कृषि मंत्री डॉ. प्रेम कुमार भी मौजूद थे।

मुख्यमंत्री ने रबी अभियान सह बीज वाहन विकास रथ को किया रवाना


मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रबी अभियान सह बीज वाहन विकास रथों को रवाना किया। मुख्यमंत्री सचिवालय स्थित संवाद कक्ष के समीप हुए इस आयोजन में कृषि मंत्री डॉ. प्रेम कुमार भी मौजूद थे।

राज्य के प्रत्येक ज़िले में दो-दो रथ भेजे जायेंगे। ये रथ प्रत्येक ग्राम पंचायत तक जाएंगे। वहीं 24 से 31 अक्टूबर तक प्रखंड स्तर पर भी प्रखंड स्तरीय प्रशिक्षण सह उत्पादन वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा।

विभाग की योजना की जानकारी दी जाएगी-

इन रथों के माध्यम से रबी मौसम में विभाग द्वारा संचालित योजनाएं एवं विभिन्न कार्यक्रमों की जानकारी किसान को दी जाएगी। प्रखंड मुख्यालय में किसानों को विभिन्न फ़सलों के खेती बाड़ी का तकनीकी प्रशिक्षण भी दिया जाएगा। प्रखंड परिसर में आयोजित शिविर में योजनाओं के लिए चयनित किसानों को खाद, बीज और कीटनाशी आदि उपलब्ध कराए जाएंगे।

इसके अतिरिक्त गेहूं,मक्का व सब्ज़ी आदि के बीज व अन्य उत्पादन शिविर में चयनित किसानों को उपलब्ध कराए जाएंगे।

किसानों की मदद को पूरी तरह से हैं तैयार-

कृषि मंत्री डॉ.प्रेम कुमार ने कहा कि सुखार की स्थिति में सरकार किसानों के मदद के लिए पूरी तरह से तैयार है। जिन प्रखंडों को सुखार घोशित किया गया है वहां के किसानों को सहायता दिए जाने को लेकर आवेदन मंगाए जा रहे हैं। अब तक 700 आवेदन आये हैं। कृषि इनपुट सब्सिडी के साथ-साथ फ़सल सहायता योजना का लाभ भी किसानों को मिलेगा। केले और गन्ने के लिए किसानों को अठारह हज़ार प्रति हेक्टेयर की दर से सहयता दी जाएगी।