पूर्व सरपंच की पत्नी की गोली मारकर हत्या


गिरियक थाना क्षेत्र के जलालपुर गांव में मंगलवार की देर रात अपराधियों ने घर में घुस कर पूर्व सरपंच की पत्नी को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया।

पूर्व सरपंच की पत्नी की गोली मारकर हत्या


गिरियक थाना क्षेत्र के जलालपुर गांव में मंगलवार की देर रात अपराधियों ने घर में घुस कर पूर्व सरपंच की पत्नी को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया। हत्या का  कारण खेत में जबरन नाली निर्माण का विरोध करना बताया जा रहा है।

गोली महिला के सिर में लगी थी। मृतिका गिरियक थाना क्षेत्र के जलालपुर गांव निवासी संजय पासवान की पत्नी आशा देवी (45 वर्ष) है। घटना के बारे में मृतिका के बड़े बेटे दीपक कुमार ने बताया की गांव के तारकेश्वर चौधरी से खेत को लेकर विवाद चल रहा था। मंगलवार की रात तारकेश्वर चौधरी अपने सहयोगियों के साथ दिवार के सहारे घर के अंदर आया था।

आवाज़ सुनते ही माँ की नींद खुल गई। माँ को देखते ही आरोपी उसे कमरे से खींचते हुए बाहर लाया और सिर में गोली मार दी जिससे की उसकी मौके पर ही मौत हो गई। आरोपी पिता को मारना चाहता था। थाना अध्यक्ष राजीव रंजन ने बताया की घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच चुकी थी। आरोपियों की गिरफ़्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। जल्द ही सभी आरोपी की गिरफ़्तारी हो जाएगी। एक आरोपी सुरेंद्र चौधरी की गिरफ़्तारी उसके घर से हुई है।

महिला के शरीर को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया गया है। इसके पति संजय पासवान ने आठ लोगों को आरोपित किया है।

दो साल पहले हुआ था झगड़ा-

मृतक के पुत्र दीपक ने बताया कि दो साल पहले भी तारकेश्वर चौधरी जबरन मेरे खेत में नाली का निर्माण करना चाहते थे। जिसका हम लोगों ने विरोध किया था। बाद में उन्होंने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर मेरे पिता और परिजनों को मारपीट कर गंभीर रूप से ज़ख्मी कर दिया था।

इस मामले में दोनों की ओर से प्राथमिकी दर्ज की गई थी। लेकिन तब पुलिस ने मेरे पिता को गिरफ़्तार कर जेल भेज दिया था।मृतिका के बेटे ने बताया की तारकेश्वर चौधरी पूरे कांड का मुख्य आरोपी है। उसी ने मेरे पिता की हत्या की साजिश रची थी। 

 

Recent Posts

Categories