अब सालों-साल करें फ़ूल गोभी की खेती


फूल गोभी की खेती ज़्यादातर सितंबर से अक्टूबर के महीने में की जाती है। अब नए तरीकों से संवर्धित बीजों से गोभी की खेती सालों-साल होने लगी है। कई किसान गर्मियों तक में गोभी की खेती करते हैं।

अब सालों-साल करें फ़ूल गोभी की खेती


फूल गोभी की खेती ज़्यादातर सितंबर से अक्टूबर के महीने में की जाती है। अब नए तरीकों से संवर्धित बीजों से गोभी की खेती सालों-साल होने लगी है। कई किसान गर्मियों तक में गोभी की खेती करते हैं।

आपको बता दें गोभी की खेती में कम लागत में बड़ा मुनाफ़ा है। लेकिन आपको गोभी की खेती करने का सही तरीका पता होना चाहिए। मध्य प्रदेश के हरदा ज़िले के खिरकिया गाँव के किसान आशीष वर्मा ने पिछले वर्ष एक एकड़ में गोभी की खेती की थी, जिससे उन्हें करीब एक लाख 80 हज़ार रुपए की कमाई हुई थी।

फूल गोभी की ऐसी कई प्रजातियां हैं जिनकी बुवाई अभी भी की जा सकती है और जनवरी में उसकी रोपाई की जा सकती है। भारत में करीब तीन हज़ार हेक्टेयर में फूल गोभी की खेती की जाती है, जिससे तकरीबन 6,85,000 टन उत्पादन होता है। उत्तर प्रदेश तथा अन्य ठंडी जगह में इसका उत्पादन बड़े पैमाने पर किया जाता है। लेकिन अब इसे सभी स्थानों पर उगाया जाता है। 22 से 25 दिन में फूल गोभी की नर्सरी तैयार हो जाती है उसके बाद इसकी रोपाई की जाती है। एक एकड़ में 18 से 20 हज़ार पौधे लगते हैं। 70-75 दिन में फसल तैयार हो जाती है।''

 

Recent Posts

Categories