सुभाष घई के खिलाफ लगाए गए आरोप बेबुनियाद: पुलिस


अभिनेत्री केट शर्मा ने फिल्ममेकर सुभाष घई के खिलाफ अपनी शिकायत वापस ली

सुभाष घई के खिलाफ लगाए गए आरोप बेबुनियाद: पुलिस


#MeToo अभियान के तहत जब बॉलीवुड के शो मैन सुभाष घई पर यौन दुराचार के आरोप लगे तो इंडस्ट्री सकते में आ गई, लेकिन अब इस मामले में सुभाष घई को बड़ी राहत मिली है। शुरुआती जाँच में पुलिस ने पाया कि इस मामले में सुभाष घई के खिलाफ लगाए गए आरोप पूरी तरह बेबुनियाद है। इसके साथ ही मामले में शिकायतकर्ता रही अभिनेत्री केट शर्मा ने अपनी शिकायत वापस ले ली है।

केट का कहना है कि वो फिलहाल इस मामले को आगे बढ़ाना नहीं चाहती, #MeToo एक मज़ाक बन गया है, इसलिए वो शिकायत वापस ले रही हैं। 

इसके अलावा मामले की जाँच में लगी पुलिस का कहना है कि "शिकायकर्ता की ओर से लगाए गए आरोपों से संबंधित कोई सबूत नहीं मिला।" अपनी रिपोर्ट में पुलिस ने लिखा है कि "जिस रात (5-6 अगस्त) यह घटना होने का आरोप लगाया है, उस वक्त वहाँ मौजूद सभी लोगों से हुई पूछताछ के आधार पर पता चलता है कि शिकायतकर्ता ने फिल्म इंडस्ट्री में मौका पाने के इरादे से जन्मदिन पर खींची गई तस्वीरों का दुरुपयोग किया और उन्हें फेसबुक पर अपलोड कर दिया। बाद में यह तस्वीरें तहलका के यूट्यूब चैनल को भेज दी। यहाँ भी उसने यह गलत दावा किया कि उसे सुभाष घई की फिल्म ऐतराज़ 2 के ज़रिए इंडस्ट्री में लॉन्च किया जाएगा।"

पुलिस ने अपनी रिपोर्ट में यह भी कहा है कि "केट शर्मा द्वारा ऐतराज़ 2 मिलने की झूठी ख़बरों से सुभाष घई काफी खफ़ा हुए और उन्होंने केट शर्मा और योगेश सरदाना से बातचीत बंद कर दी, जिसके बाद शिकायतकर्ता ने सुभाष घई के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई"