झारखंड के किसानों को फसल बीमा नहीं कराने पर भी मिलेगा मुआवज़ा


झारखंड के किसानों के लिए एक अच्छी खबर है। दरअसल झारखंड के कृषि मंत्री रणधीर कुमार सिंह ने किसानों के लिए एक बड़ी घोषणा की है।

झारखंड के किसानों को फसल बीमा नहीं कराने पर भी मिलेगा मुआवज़ा


झारखंड के किसानों के लिए एक अच्छी खबर है। दरअसल झारखंड के कृषि मंत्री रणधीर कुमार सिंह ने किसानों के लिए एक बड़ी घोषणा की है। वे बोले, जिन किसानों ने खरीफ में फसल बीमा नहीं कराया था, सरकार सूखा का उनको भी मुआवज़ा देगी।यानि जहां वर्षा आधारित खेती होती है, वहां के किसानों को प्रति हेक्टेयर 6800 रुपये और सिंचित इलाकों में 13500 रुपये बीमा कराने वाली कंपनियों के द्वारा मुआवज़े के रूप में दिया जायेगा।

कृषि मंत्री ने यह घोषणा 'गव्य विकास विभाग' के सभागार में आयोजित राज्य स्तरीय रबी कार्यशाला में की है। साथ ही उन्होंने कहा कि, उन्होनें बीमा कराने वाली कंपनियों को निर्देश दिया है कि किसानों के क्लेम के 45 दिनों के बाद राशि उनके एकाउंट में चली जाना चाहिए। ऐसा नहीं हुआ तो बीमा करने वाली कंपनियों पर कानूनी कार्यवाही की जायेगी।

'खरीफ' के बीमा का पूरा क्लेम बीमा कराने वाली कंपनियों से आजतक नहीं मिला है। यह घोर लापरवाही है।  यही नहीं, कृषि मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि किसानों को कैम्प लगाकर उन्हें पंप सेट का वितरण करें।