जानें मिट्टी के बर्तनों के लाभ


सुनने में अच्छा तो लगेगा कि हम समय के साथ-साथ मॉडर्न होते जा रहे हैं। परंतु, बढ़ते समय के साथ हम अपनी संस्कृति, अपने पुराने रहन- सहन को भी भूलते जा रहे है। इस वजह से कईं तरह की समस्याएं भी पैदा होनी शुरू हो गई हैं। हम आपको इन्हीं समस्याओं से निपटने के लिए कुछ तरीके बताएंगे। सबसे पहले हमें ज़रूरत है अपनी जीवनशैली को बदलने की।

जानें मिट्टी के बर्तनों के लाभ


सुनने में अच्छा तो लगेगा कि हम समय के साथ-साथ मॉडर्न होते जा रहे हैं। परंतु, बढ़ते समय के साथ हम अपनी संस्कृति, अपने पुराने रहन- सहन को भी भूलते जा रहे है। इस वजह से कईं तरह की समस्याएं भी पैदा होनी शुरू हो गई हैं। हम आपको इन्हीं समस्याओं से निपटने के लिए कुछ तरीके बताएंगे। सबसे पहले हमें ज़रूरत है अपनी जीवनशैली को बदलने की।

हम मिट्टी और उसके बर्तनों के बारे में बात करेंगे। जहां पहले के समय में लोग मिट्टी के बर्तनों में खाना पकाते थे। जिस वजह से वह कईं प्रकार की गंभीर बीमारियों के खतरे से बचे हुए थे। प्रकृति से जुड़ी चीज़े हमें कभी नुकसान नहीं देती। मिट्टी के बर्तन में पकाया खाना पौष्टिक होता है। इसमें पके भोजन में मैग्नीशियम, आयरन,  कैल्शियम, आयरन, फॉस्फोरस, मिनरल्स आदि गुण शामिल होते है। इसके साथ ही यह बर्तन इको-फ्रैंडली होते हैं।

जानते हैं इसके लाभ-

भोजन का पी.एच लेवल नियंत्रित रहता है 

मिट्टी के बर्तन में बनाया गया खाना पौष्टिकता के साथ-साथ हमारे पी.एच लेवल को नियंत्रित करने में मदद करता है। इसकी मिट्टी में जाकर एसिड खत्म हो जाते है और पी.एच को नियंत्रित करते है। जिससे हमारे शरीर में एसिटिक कोशिकाएं बढ़ जाती हैं और कैंसर जैसी गंभीर बीमारी का ख़तरा कम रहता है।



यह भी पढ़ें-

जानिए एक बेमिसाल महिला किसान की कहानी

http://www.panchayatitimes.com/newsdetail.php?id=458#



 

मिट्टी के बर्तन में खाना रहता है पौष्टिक 

मिट्टी के बर्तन में जो खाना बनता है उस खाने में मिट्टी के तत्व शामिल होते हैं और उसमें से जो गैस निकलती है, मिट्टी का बर्तन उसे बाहर नहीं जाने देता. वह गैस खाने को पौष्टिक तत्व प्रदान करती है जिससे खाना पौष्टिक बनता है।

खाना स्वादिष्ट बनता है

स्टील, लोहे आदि बर्तनों में बने भोजन में उतना बेहतर स्वाद नहीं आता जितना अच्छा स्वाद मिट्टी के बर्तनों में पके खाने का आता है।

खाना जल्दी खराब नहीं होता

मिट्टी के बर्तन में खाना बनने में थोड़ा ज्यादा समय लगता है। इस वजह से इसका खाना ज्यादा देर तक ताज़ा और पौष्टिक बना रहता है और ज्यादा देर चलता है. जिससे हमारे शरीर को नुकसान भी नहीं होता है।

Recent Posts

Categories