टमाटर खाकर रहें तंदरुस्त


टमाटर सिर्फ सलाद नहीं, पर औषधि भी है। टमाटरों का इस्तेमाल अक्सर सब्जियों के बनाने के दौरान और बतौर सलाद होता है लेकिन इस बात को बहुत कम लोग जानते हैं कि इसके कई औषधीय गुण भी हैं। वहीं टमाटर का चटक लाल रंग मुझे बहुत भाता है और इसे कच्चा चबाना मुझे बेहद पसंद भी है।

टमाटर खाकर रहें तंदरुस्त


टमाटर सिर्फ सलाद नहीं, पर औषधि भी है। टमाटरों का इस्तेमाल अक्सर सब्जियों के बनाने के दौरान और बतौर सलाद होता है लेकिन इस बात को बहुत कम लोग जानते हैं कि इसके कई औषधीय गुण भी हैं। वहीं टमाटर का चटक लाल रंग मुझे बहुत भाता है और इसे कच्चा चबाना मुझे बेहद पसंद भी है।

आपको बता दें, जिन लोगों को वैरिकोस वेन की शिकायत होती है, उनके लिए टमाटर एक वरदान की तरह है। साथ ही हाथ पैरों और शरीर के अन्य हिस्सों पर नसों का फूल जाना या नीले रंग का हो जाना वेरीकोस वेन कहलाता है। उस पारंपरिक हर्बल जानकारी के अनुसार देसी हरे टमाटर लिए जाएं और उनके गोल-गोल स्लाइसेज तैयार किए जाएं। बता दें इन स्लाइसेज को वेरीकोस वेन वाले हिस्सों पर चपटा करके रख दिया जाए और उस पर सूती कपड़े का बैंडेज या पुल्टिस तैयार कर दिया जाए।



यह भी पढ़ें-

इस जेल के कैदी बन रहे हैं हाईटेक किसान
 


इसके साथ ही रोज रात ऐसा करते हुए अगली सुबह तक इसे करना चाहिए। इस बैंडेज को निकाल कर शरीर के उस हिस्से की सफाई की जा सकती है। फिर हर रात इसी तरह देसी हरे टमाटर के स्लाइसेज तैयार कर बैंडेज बनाकर वेरीकोस वेन पर लगाएं और इसे अगले 15 दिनों तक दोहराते रहें। 15 दिनों बाद वेरीकोस वेन की समस्या जाते रहती हैं।

 

Recent Posts

Categories