“मोदी की सेना’’ पर फंसे मोदी के धुरंधर


चुनाव से ठीक पहले चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी को नोटिस दे दिया है। दरअसल चुनाव आयोग की तरफ से ये नोटिस भारतीय सेना को मोदी सेना कहनें के लिए दिया गया है।

“मोदी की सेना’’ पर फंसे मोदी के धुरंधर


चुनाव से ठीक पहले चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी को नोटिस दे दिया है। दरअसल चुनाव आयोग की तरफ से ये नोटिस भारतीय सेना को मोदी सेना कहनें के लिए दिया गया है।

चुनाव के महासमर में वोट बैंक के लिए नेता वोटरों को रिझाने की तमाम कोशिश करते हैं। आरोप-प्रत्यारोप के दौर भी चलते हैं। एक दूसरे को नीचा भी दिखाया जाता है, खुद को सामने वाले से बेहतर बताने की कोशिश की जाती है और इसी कोशिश में कई बार नेताओं की जुबान फिसल जाती है। जिसका खामियाजा भी राजनेताओं को भुगतना पड़ता है। इसी जुबान फिसलने का शिकार हुए हैं केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी, दरअसल मुख्तार अब्बास नकवी उत्तर प्रदेश के रामपुर में नकवी ने भारतीय सेना को मोदी सेना कहकर पुकारा और कहा कि मोदी की सेना आतंकवादियों को घर में घुसकर मार रही है। जिसके बाद उत्तर प्रदेश चुनाव आयोग ने नकवी के इस बयान पर रिपोर्ट तलब किया है।

आपको बता दें इसेस पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी भारतीय सेना को मोदी सेना काहा था। योगी ने कहा था कि मोदी जी की सेना आतंकियों दौड़ा- दौड़ा कर मार रही है। जिसके बाद राजनीतिक पार्टियों ने इस पर सवाल भी खड़े किए थे।

चुनाव आयोग ने भी योगी के बयान पर कड़ा रुख अपनाते हुए योगी आदित्यनाथ के रिपोर्ट तरफ किआ था।  चुनाव आयोग ने योगी के सभाओं पर नजर रखना शुरू कर दिया। इस बयान के बाद योगी आदित्यनाथ ने जितनी भी जनसभाएं की उसमें चुनाव आयोग की एक टीम मौजूद रही, और आदित्यनाथ के भाषणों की रिकॉर्डिंग भी करती रही।

  

Recent Posts

Categories