मोदी को मरवाने वाले वीडियो का क्या है राज, आखिर कैमरे के पीछे है कौन?


अगर तेज बहादुर ने ये बात बोली है, या मामला कुछ और है? यहां मामला चाहे जो भी हो जिसने भी ऐसा किया है, वो दोषी है। पर यहां सबसे बड़ा सवाल ये है, कि ये वीडियो कीसनें बनाया है? वो कौन लोग थे जो तेज बहादुर के साथ थे?

मोदी को मरवाने वाले वीडियो का क्या है राज, आखिर कैमरे के पीछे है कौन?


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने के लिए नामांकन भरने वाले तेज बहादुर यादव का कुछ समय पहले एक वीडियो वायरल हुआ। इस वीडियो में तेज बहादुर यादव पैसों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की बात कहते दिख रहे हैं। 

यहां सवाल ये खड़ा होता है। अगर तेज बहादुर ने ये बात बोली है, या मामला कुछ और है? यहां मामला चाहे जो भी हो जिसने भी ऐसा किया है, वो दोषी है। पर यहां सबसे बड़ा सवाल ये है, कि ये वीडियो कीसनें बनाया है? वो कौन लोग थे जो तेज बहादुर के साथ थे? यहां हमारा मानना है की कहीं ये बातें तेज बहादुर से बुलाई तो नहीं गई है? ताकी इसका राजनीतिक फायदा उठाया जा सके। अगर ऐसा है, तो वो लोग भी इस गुनाह में बराबर के हिस्सेदार है। जो उस समय तेजबहादुर के साथ थे। 

शहजाद पूनावाला ने इस वीडियो को  ट्विट किया है। इस वीडियो को सामनें आनें के बाद तेज बहादुर ने वीडियो पर सफाई देते हुए कहा कि ये उन्हीं का वीडियो है, पर यह वीडियो अभि का नहीं है, ये 2017 के मई-जून का है। तब मेरा चुनाव लड़ने का कोई मन नहीं था। उन्होंने कहा कि भाजपा इस वीडियो का गलत इस्तेमाल कर रही है।

तेजबहादुर ने कहा कि दिल्ली पुलिस के सिपाही पंकज शर्मा नें उन्हें ब्लैकमेलिंग के लिए यह वीडियो बनाया है। वो मुझसे पैसे भी मांग रहा है। पर मैं डरनें वाला नहीं हु, मैंने जो रास्ता चुना है, उसी पर चलता रहूंगा। 

इस पुरे मामले को BJP नें गंभीरता से लिया है, भाजपा प्रवक्ता जी वी एल नरसिम्हा राव ने कहा कि वीडियो से पता चलता है कि अपनी हार को देखते हुए राजनीतिक विरोधी हिंसक तरीकों पर उतर आए हैं। 

Recent Posts

Categories