स्वयं को प्रधानमंत्री समझकर देश हित में काम करें- मोदी


मोदी सरकार के अगले पांच साल की योजनाओं को लेकर सभी मंत्रालयों के सचिवों की बैठक। कहा- देश, समाज और खासकर गरीबों के जीवन में बदलाव के लिए काम कीजिए..

स्वयं को प्रधानमंत्री समझकर देश हित में काम करें- मोदी


 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को मोदी सरकार के अगले पांच साल की योजनाओं को लेकर सभी मंत्रालयों के सचिवों के साथ बैठक की। इस दौरान उन्होनें कहा कि जनता ने हमें देश के विकास और बदलाव के लिए चुना है। लोगों के जीवन स्तर को कैसे बेहतर बनाया जाए इस पर फोकस करना होगा। पीएम मोदी ने कहा कि हर मंत्रालय के लिए पांच साल का प्लान तैयार करना होगा।

प्रधानमंत्री ने सचिवों से कहा देश, समाज और खासकर गरीबों के जीवन में बदलाव के लिए स्वयं को प्रधानमंत्री समझकर काम कीजिए। अगर ऐसा करते हुए आपसे अनजाने में कोई गलती हो जाती है तो आपको घबराने की जरूरत नहीं है।

इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद रहे। उन्होनें कहा कि भारत का उद्देश्य पांच लाख करोड़ डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने का लक्ष्य प्राप्त करना है, जिसके लिए एक रोडमैप तैयार करना होगा।

जनता ने हम पर विश्वास करके दोबारा बहुमत दिया है, जिसका पूरा श्रेय उन प्रशासनिक अधिकारियों को जाता है जिन्होंने ईमानदारी के साथ पिछले पांच साल में सरकार के विभिन्न लक्ष्यों को पूरा किया है। उन्होनें कहा कि इस बार केंद्र सरकार गरीबी उन्मूलन और पानी से जुड़े मुद्दों पर ध्यान देगी।

पीएम मोदी ने कहा कि प्रत्येक मंत्रालय अपनी योजनाओं को लेकर महत्वपूर्ण फैसले ले और उन्हें 100 दिन के अंदर मंजूर भी करें। जनता की इतनी ज्यादा उम्मीदों को हमें चुनौती की तरह नहीं बल्कि मौके की तरह लेना चाहिए। मोदी ने अधिकारियों से प्रशासन में टेक्नोलॉजी का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करने की अपील की, जिससे कार्यक्षमता बढ़ेगी और भ्रष्टाचार कम होगा।