यूपी विधानसभा चुनाव: समाजवादी पार्टी में शामिल हुए स्वामी प्रसाद मौर्य, भाजपा पर जमकर निशाना साधा


स्वामी प्रसाद मौर्या ने भाजपा पर जमकर निशाना साधा और कहा कि उत्तर प्रदेश को भाजपा के शोषण से मुक्त कराना है।

यूपी विधानसभा चुनाव: समाजवादी पार्टी में शामिल हुए स्वामी प्रसाद मौर्य, भाजपा पर जमकर निशाना साधा


उत्तर प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री और प्रमुख ओबीसी नेता स्वामी प्रसाद मौर्य शुक्रवार को एक अन्य बागी मंत्री धर्म सिंह सैनी के साथ समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए। अखिलेश यादव की मौजूदगी में बीजेपी के पांच विधायक और अपना दल (सोनेलाल) के विधायक अमर सिंह चौधरी भी सपा में शामिल हो गए.

सपा में शामिल होने वाले पांच भाजपा विधायक भगवती सागर (कानपुर में बिल्हौर), रोशनलाल वर्मा (शाहजहांपुर में तिलहर), विनय शाक्य (औरैया में बिधूना), बृजेश प्रजापति (बहरीच में तिंदवारी) और मुकेश वर्मा (फिरोजाबाद में शिकोहाबाद) और चौधरी शोहरतगढ़ से विधायक हैं।

स्वामी प्रसाद मौर्या ने भाजपा पर जमकर निशाना साधा और कहा कि उत्तर प्रदेश को भाजपा के शोषण से मुक्त कराना है। आज भाजपा के खात्मे का शंखनाद बज गया है। भाजपा ने देश और प्रदेश की जनता को गुमराह कर उनकी आंखों में धूल झोंकी है और जनता का शोषण किया है। अब भाजपा का खात्मा करके उत्तर प्रदेश को भाजपा के शोषण से मुक्त कराना है। स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा, "भाजपा के बड़े- बड़े नेता जो कुंभकरण नींद सो रहे थे, आज हम लोग के इस्तीफा देने के बाद उनकी नींद हराम हो गई है, उन्हें नींद ही नहीं आ रही है। अखिलेशजी पढ़े लिखे हैं नौजवान हैं और प्रदेश के लाखों लोगों का साथ उनके साथ मिलकर बीजेपी को निस्तनाबूत कर देंगे।" 

उन्हें यहां कार्यालय में सपा की सदस्यता दी गई। राज्य के श्रम मंत्री मौर्य के इस्तीफे से उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ भाजपा को झटका लगा है। महत्वपूर्ण चुनावों से एक महीने से भी कम समय पहले, राज्य में गैर-यादव ओबीसी के बीच सपा के प्रभाव को मजबूत करने के लिए घटनाक्रम दिखाई देता है, जिसका 2024 के संसदीय चुनावों पर भी प्रभाव पड़ेगा। उत्तर प्रदेश में 10 फरवरी से सात चरणों में मतदान होना है।

Recent Posts

Categories