चुनाव आयोग ने रैलियों, रोड शो पर लगी रोक 31 जनवरी तक बढ़ाई, 10 लोग कर सकेंगे डोर टू डोर कैंपेन


आयोग ने कहा कि COVID प्रतिबंधों के साथ निर्दिष्ट खुले स्थानों पर प्रचार के लिए वीडियो वैन की अनुमति दी गई है।

चुनाव आयोग ने रैलियों, रोड शो पर लगी रोक 31 जनवरी तक बढ़ाई, 10 लोग कर सकेंगे डोर टू डोर कैंपेन


चुनाव आयोग ने शनिवार को भौतिक रैलियों और रोड शो पर प्रतिबंध को 31 जनवरी तक बढ़ा दियालेकिन 28 जनवरी से चरण 1 और 1 फरवरी से चरण 2 के लिए पार्टियों या चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों की शारीरिक सार्वजनिक सभाओं के लिए छूट दी। आयोग नेडोर-टू-डोर अभियान के लिए लोगों की अनुमति सीमा भी बढ़ा दी है

भारत चुनाव आयोग ने कहा कि 31 जनवरी 2022 तक रोड शोपद-यात्रासाइकिल/बाइक/वाहन रैली और जुलूस की अनुमति नहींहोगी। इसके अलावा डोर टू डोर कैंपेन के लिए 5 व्यक्तियों की सीमा बढ़ाकर 10 व्यक्ति कर दी गई है। आयोग ने कहा कि COVID प्रतिबंधों के साथ निर्दिष्ट खुले स्थानों पर प्रचार के लिए वीडियो वैन की अनुमति दी गई है। पहले चरण के लिए राजनीतिक दलों याचुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों की फिजिकल सार्वजनिक बैठकों के लिए 28 जनवरी, 2022 से और चरण 2 के लिए 1 फरवरी, 2022 से छूट दी गई है। संक्रमण और टीकाकरण की स्थिति की समीक्षा के लिए शनिवार को हुई बैठक में इस पर सहमति बनी। शनिवार कोभारत चुनाव आयोग ने केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव और पांच राज्यों के मुख्य स्वास्थ्य सचिवों के साथ एक वर्चुअल बैठक के बाद ये फैसलालिया।

चुनाव आयोग ने इंडोर में मीटिंग के लिए 500 या हॉल की क्षमता के अनुसार 50% तक की मंजूरी दी है। इसके लिए जिला चुनावआयोग से पहले इस संबंध में मंजूरी लेना अनिवार्य होगा और कोरोना के नियमों का पालन करना भी जरूरी है। सिर्फ सोशल मीडिया परकैम्पेन करने की इजाजत रहेगी।

Recent Posts

Categories