दिल्ली की जामा मस्जिद के नीचे दबी देवी-देवताओं की मूर्तियां: हिंदू महासभा ने पीएम मोदी को लिखा पत्र


अखिल भारत हिंदू महासभा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर दावा किया है कि दिल्ली की जामा मस्जिद के नीचे हिंदू देवी-देवताओं की मूर्तियां दफन हैं। संगठन ने मांग की है कि साइट को खोदा जाए।

दिल्ली की जामा मस्जिद के नीचे दबी देवी-देवताओं की मूर्तियां: हिंदू महासभा ने पीएम मोदी को लिखा पत्र


अखिल भारत हिंदू महासभा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर दावा किया है कि दिल्ली की जामा मस्जिद के नीचे हिंदू देवी-देवताओं की मूर्तियां दफन हैं। संगठन ने मांग की है कि साइट को खोदा जाए।

इसमें कहा गया है कि मुगलों ने मस्जिद बनाने के लिए देश में मंदिरों को तोड़ा। "राम जन्मभूमि, कृष्ण जन्मभूमि और ज्ञानवापी स्पष्ट उदाहरण हैं।"

महासभा ने कहा कि औरंगजेब ने हिंदू देवी-देवताओं की मूर्तियों को दिल्ली की जामा मस्जिद की सीढ़ियों के नीचे दफनाने का आदेश दिया था, जब औरंगजेब की सेना में सबसे वरिष्ठ जनरल खान जहान बहादुर, हिंदुओं के धार्मिक स्थलों को नष्ट करने के बाद जोधपुर और अन्य क्षेत्रों से लौटे थे।

हिंदू महासभा के प्रमुख चक्रपाणि महाराज ने पीएम मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को लिखे पत्र में लिखा, "इसलिए, संबंधित विभाग को मूर्तियों को निकालने के लिए साइट खोदने के लिए निर्देश जारी करना आवश्यक है।"

ऐतिहासिक जामा मस्जिद का निर्माण मुगल सम्राट शाहजहाँ ने 1644-1656 के बीच करवाया था। अंतिम प्रभावी मुगल सम्राट माने जाने वाले औरंगजेब ने 1707 में अपनी मृत्यु तक लगभग 49 वर्षों तक शासन किया।

वाराणसी में प्रसिद्ध काशी विश्वनाथ मंदिर के पास ज्ञानवापी मस्जिद से जुड़े एक उग्र विवाद के बीच यह मांग आई है। स्थानीय कोर्ट के कहने पर हाल ही में मस्जिद का वीडियो सर्वे किया गया था. हिंदू याचिकाकर्ताओं के अनुसार, वजूखाना के अंदर एक शिवलिंग पाया गया, जिसके बाद अदालत ने क्षेत्र को सील करने का निर्देश दिया

Recent Posts

Categories